जानें खाली पेट लहसुन खाने के है बहुत फायदे । लहसून खाने के फायदे

     लहसून खाने के फायदे :

    आज के समय मे लहसून का उपयोग लगभग सभी घरों के खाने मे होता है। लहसून जो कि प्याज के ही प्रजाति का होता है। क्या आप लहसून का केवल इस्तेमाल करते है या इसके खाने के फायदे को भी जानते है। इसमें काफी तीखा गंध होता है ,इसके गंध के कारण ही य़ह औषधि के रूप मे भी इसका इस्तेमाल होता है।

    दुनियाभर में  लगभग सभी जगह लहसुन का उपयोग मसाले, चटनी, सॉस, अचार तथा दवाओ मे किया जाता है। 


    इसका वैज्ञानिक नाम अलीयम सॅटीवेम (Allium sativem) होता है।इसका  संस्कृत नाम  लशुन तथा इसका अंग्रेजी नाम: Garlic होता है। 

    लहसून खाने के फायदे


    सुबह सुबह खाली पेट इसके सेवन करने पर लहसुन के गुण बढ़ जाते है। लहसुन जो की डायरिया के इलाज के लिए कारगर होता है।बहुत से लोग इसे एक औषधि के रूप में जानते हैं।सभी घरो में भोजन को स्‍वादिष्‍ट बनाने वाले मसाले के तौर पर इसका इस्‍तेमाल किया जाता है।कई प्रकार की बीमारियों को रोकने और इलाज में काफी कारगर होता है।लहसुन की गंध बहुत ही तेज और स्वाद में तीखा होता है। लहसुन जिसमें एलियम नामक एंटीबायोटिक होता है जो बहुत से रोगों के बचाव में लाभप्रद है। लगातार लहसुन खाने से ब्लडप्रेशर कम या ज्यादा होने की वाली बीमारी नहीं होती। एसिडिटी की समस्‍या में भी इसका प्रयोग बहुत ही लाभदायक होता है।


    खाली पेट खाने के फायदे:-

    अनेक शोध से यह बात सामने आई है कि खाली पेट लहसुन का सेवन करने से इसकी शक्ति और भी बढ़ जाती है। यह बेहद मजबूत प्राकृतिक एंटीबायोटिक बन जाता है। इसका सेवन करना अच्‍छे पाचन और भूख को बढ़ाने में भी मदद करता है।ट्यूबरक्लोसिस की समस्‍या होने पर सुबह के समय खाली पेट लहसुन खाना बहुत फायदेमंद होता है।

    लहसुन पेट की समस्याओं के उपचार 

    लहसुन के सेवन से पेट के तनाव को नियंत्रित करने में मदद मिलती है और इस तरह से घबराहट के कारण शरीर में बार-बार पैदा होने वाले एसिड का उत्‍पादन बंद हो जाता है। लहसुन पेट की समस्‍याओं जैसे डायरिया के इलाज के लिए कारगर होता है। साथ ही यह तंत्रिका की समस्‍याओं के लिए भी अद्भुत उपाय है, लेकिन तब जब लहसुन का सेवन खाली पेट किया जाये।

    उच्‍च रक्‍तचाप में भी 

    बहुत से लोगों ने अनुभव किया की लहसुन उच्‍च रक्‍तचाप के लक्षणों में भी आराम पहुंचाता है। यह केवल रक्‍त परिसंचरण को नियंत्रित करने के साथ ही विभिन्न प्रकार की हृदय संबंधी समस्याओं से भी बचाता है।इससे आपके लीवर और ब्‍लैडर के सभी कार्य भी ठीक से होते हैं।

    दांत के दर्द में भी 

    दांत के दर्द में लहसुन का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। यदि आपको कीड़ा लगने से दांत में दर्द हो तो आप लहसुन के टुकड़ों को गर्म करें और उन टुकड़ों को दर्द वाले दांत पर रखकर कुछ देर तक दबाएं रखे ।ऐसा करने से दांत का दर्द भी ठीक हो जाता है।

    लहसुन श्वसन तंत्र के लिए अच्छा 

    इसका सेवन टीबी, दमा, निमोनिया, सर्दी, ब्रोंकाइटिस, पुरानी ब्रोन्कियल सर्दी, फेफड़ों में संक्रमण और खांसी की रोकथाम और इसके इलाज के लिए भी अच्‍छा होता है।

    लहसुन डिटॉक्सीफिकेशन गुणों 

    लहसुन डिटॉक्सीफिकेशन के गुणों के कारण वैकल्पिक चिकित्सा में सबसे कुशल खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है।लहसुन इतना लाभप्रद होता है कि यह परजीवी और कीड़े से शरीर को साफ करता है और मधुमेह, अवसाद, और यहां तक कि कुछ प्रकार के कैंसर जैसी बीमारियों से भी बचाता है।आपको एलर्जी की समस्‍या है तो दो महत्‍वपूर्ण चीजों का ध्‍यान रखना चाहिए , इसका सेवन कच्‍चा न करें, दूसरा किसी भी प्रकार की त्‍वचा संबंधी समस्‍या, शरीर का उच्‍च तापमान और सिर दर्द होने पर इसका सेवन नहीं करे। 


    Leave a Comment

    Your email address will not be published. Required fields are marked *