Ticker

6/recent/ticker-posts

Windows XP IN HINDI

आज के समय में Windows XP  इतिहास बन गया है लेकिन अपनी विशेषता के कारण लोगो में बहुत ही ज़्यदा लोकप्रिय था।Windows XP  एक ऑपरेटिंग  सिस्टम था जो की अपने समय में काफी लोकप्रिय था। इसे 2001 में लॉन्च किया गया था। जो की 25 OCT  2001 को खुदरा बिक्री के लिए जारी किया गया था। अगर आप अधिक समय से कंप्यूटर का इस्तेमाल करते है तो निश्चित रूप से आप Windows XP के बारे में जानते ही होंगे।



विंडोज एक्सपी एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो माइक्रोसॉफ्ट द्वारा विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के विंडोज एनटी परिवार के हिस्से के रूप में निर्मित  हुआ था।(Windows XP) का विकास 1990 के दशक के उत्तरार्ध में "नेप्च्यून" के रूप में शुरू हुआ, जो विंडोज NT कर्नेल पर निर्मित एक ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) था जो विशेष रूप से मुख्यधारा के उपभोक्ता के  उपयोग के लिए बनाया गया था। यह 24 अगस्त, 2001 को विनिर्माण के लिए जारी किया गया था, और मोटे तौर पर 25 अक्टूबर, 2001 को खुदरा बिक्री के लिए जारी किया गया था।विंडोज एक्सपी विंडोज का पहला उपभोक्ता संस्करण था जो एमएस-डॉस पर आधारित नहीं था।इस ऑपरेटिंग सिस्टम में मल्टी-टास्किंग क्षमताएं हुआ करता था।  जिसका अर्थ यह है कि यह एक ही समय में कई एप्लिकेशन चला सकता है। मल्टी-टास्किंग आपको इस पाठ को इंटरनेट पर उसी समय देखने की अनुमति देता है जब आप विंडोज एक्सपी के साथ अन्य अनुप्रयोगों का उपयोग करते हैं।

विंडोज XP डेस्कटॉप 

विंडोज के पिछले संकरण की तरह ये भी मानक इंटरफ़ेस के लिए डिस्प्ले का उपयोग करता है।  

डेस्कटॉप(desktop) पर आने वाले :-


  • स्टार्ट बटन(Start button):

यह विंडोज XP के साथ काम करते समय आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले सबसे महत्वपूर्ण उपकरणों में से एक है। प्रारंभ बटन आपको मेनू खोलने और एप्लिकेशन शुरू करने की अनुमति देता है।

  •  टास्कबार(Taskbar)

यह मुख्य रूप से खुली खिड़कियों और अनुप्रयोगों के बीच स्विच करने के लिए उपयोग किया जाता है। बाद के पाठ में टास्कबार का उपयोग करने के बारे में अधिक जानें।

  •  प्रतीक(Icons) : 

यह अनुप्रयोगों, फ़ाइलों और ऑपरेटिंग सिस्टम के अन्य भागों का प्रतिनिधित्व करता है। डिफ़ॉल्ट रूप से, Windows XP आपको एक डेस्कटॉप आइकन, रीसायकल बिन प्रदान करता है। बाद के पाठ में रीसायकल बिन के बारे में अधिक जानें।

  • स्टार्ट Start:-

जब आप स्टार्ट बटन पर क्लिक करते हैं, तो स्टार्ट मेनू दिखाई देता है। प्रारंभ मेनू आपके कंप्यूटर पर अनुप्रयोगों के लिए आपका प्रवेश द्वार है। स्टार्ट मेनू के बाईं ओर प्रोग्राम्स को सूचीबद्ध करता है, जबकि दाईं ओर आम विंडोज फ़ोल्डर्स (उदाहरण के लिए मेरे दस्तावेज़) तक पहुंच की अनुमति देता है। यह सहायता और सहायता, खोज और रन तक पहुंच भी प्रदान करता है।



  • टास्कबार(The taskbar) 

टास्कबार(taskbar) एक छोटी सी नीली पट्टी हैजिसे आप अपने डेस्कटॉप के नीचे देखते हैं। इसमें स्टार्ट मेनू और क्विक लॉन्च बार होता है, जिसमें इंटरनेट एक्सप्लोरर, विंडोज मीडिया प्लेयर और शो डेस्कटॉप के आइकन होते हैं।

Image Source by google

  • आइकन (icons)

डेस्कटॉप पर आने छोटी तस्वीरों को आइकन कहा जाता है। एक प्रकार का आइकन ऑब्जेक्ट आइकन है।ऑब्जेक्ट आइकन के उदाहरण हैं मेरा कंप्यूटर, रीसायकल बिन और इंटरनेट। ये आइकन आपको फाइल ओपन करने की सुविधा देते है।  

  • लॉग इन करें और User को स्विच करें

image By google


एक  से जायदा पर्सन User एक ही कंप्यूटर को उपयोग कर सकते है। उदाहरण के लिए, एक परिवार कमे कई सदस्य घर पर एक ही कंप्यूटर का उपयोग करते है।  (Windows XP)उन सभी को अनुमति देता है, जो एक ही कंप्यूटर मे अलग़ अलग़  प्रोफाइल के साथ  काम करते है। (Windows XP) भी आपको कंप्यूटर को लॉग ऑफ करने में सक्षम बनाता है, जिससे कोई  दूसरा व्यक्ति कंप्यूटर को बिना स्टार्ट किये लॉग इन कर सके।कंप्यूटर बंद करने के लिए जब आप (Windows XP) का उपयोग करना समाप्त कर लेते हैं, तो कंप्यूटर को सही ढंग से बंद (या बंद) करना सुनिश्चित करें। अनुशंसित शटडाउन प्रक्रिया के बारे में पढ़ने के लिए मैनुअल को जरूर से पढ़े। 
स्टार्ट मेनू पर क्लिक करें।कंप्यूटर बंद करें पर क्लिक करें। 
image by google


एक डायलॉग बॉक्स खुलता है।बंद करें(Turn OFF) पर क्लिक करें


**12 साल बाद, 8 Apr 2014  को Windows XP के लिए समर्थन समाप्त हो गया। 


Windows XP माइक्रोसॉफ्ट का सबसे ज़्यदा बिकने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम था। ये सबसे ज़्यदा सफल ऑपरेटिंग सिस्टम में से एक था।लेकिन 2014 में इसका सिस्टम सपोर्ट खत्म होने कारण ये चलन से बाहर हो गया।इसे 2001 में माइक्रोसॉफ्ट ने पेश किया था ये उस समय के मौजूद सभी पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम से बेहतर था।पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे कीWindows98 ,Windows MP, Windows 2000 से बेहतर और ज़्यदा उपयोगी था।इसे  होम यूजर और प्रोफेसनल यूजर दोनों के ध्यान में रख कर  बनाया गया था। इसे इस्तेमाल करने के लिए 128MB RAM की जरूरत होती थी। 450MHZ के प्रोसेसर के साथ इसका इस्तेमाल किया जा सकता था। 


इसे हम मल्टी यूजर बना सकते थे। एक ही घर या किसी सन्स्थान में बहुत से लोग अपने जरूरत के हिसाब से इसका इस्तेमाल कर सकते थे।इसका इस्तेमाल करने वाले सारे लोग इसमें अपने प्रोफाइल के माध्यम से अपने हिसाब से सॉफ्टवेयर का चयन कर सकते थे।इसमें सिमित  इस्तेमाल के लिए गेस्ट अकाउंट बना कर सिमित उपयोगी ऑप्शन के साथ भी इस्तेमाल किया जा सकता था ,जो की कंप्यूटर के एडमिन अकॉउंट से बनाया जाता था।इसके बेहतर काम करने के लिए अधिक RAM स्पेस के साथ डिस्क स्पेस होना चाहिए था।जितना अधिक स्पेस ये उतना अच्छा काम करता।यह एक Multitask वाला ऑपरेटिंग सिस्टम था।इसमें एक साथ में बहुत से काम किया जाता था।इसका Theme लोगो में बहुत पसंद किया जाता था।  
यह सबसे ज़्यदा बिकने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम था इसने कंप्यूटर के युग में एक नई मिल का पत्थर अस्थापित किया। इसका यूजर फ्रेंडली होना सबसे अहम बात थी। इसमें WINDOWS LIVE MESSANGER की सुविधा थी ,जिससे लोग आपस में इंटरनेट के माध्यम से VIDEO AUDIO TEXT में बात  कर सकते थे। इसमें सिस्टम को RESTORE करने की सुविधा थी जो इसकी महत्व को और ज़्यदा बढाती थी। अगर कंप्यूटर में कुछ दिक़्क़त आ जाने पर सिस्टम RESTORE कर पुराने समय में कंप्यूटर को वापस ला सकते थे जब हमारा कंप्यूटर सही था।इसमें WIFI या ब्लूटूथ से कनेक्ट होने की छमता थी।इसका परमॉर्मेंस पिछले ऑपरेटिंग सिस्टम से बहुत बेहतर था। ये गेम सपोर्ट करता था जिससे मनचाहा गेम खेला जा सकता था। इसे हम CD के माध्यम से आसानी से इन्स्टाल कर सकते थे। VIRUS को हटाने वाला सॉफ्टवेयर को WINDOWS XP  के कम्पनी ने बनाना बंद कर दिया जिससे इसकी सुरक्षा में कमी आई जो आगे चल कर इतिहास बना दिया। 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां