Ticker

6/recent/ticker-posts

Dog in Hindi । कुत्ता पर छोटे निबंध

आज के पोस्ट का विषय है ,एक पालतू जानवर के बारे में। जो सबसे ज़्यदा समझदार और वफादार दोनों होता है। आज के पोस्ट का विषय कुत्ता से सम्बंदित है। पूरा पोस्ट को पढ़े और जानकारी भी पूरी पाए। 


कुत्ता ही एक ऐसा इकलौता ऐसा जानवर है जो समय पड़ने पर अपने मालिक के लिए अपनी जान भी दे सकता है।यह मनुष्य का सबसे अच्छा मित्र माना जाता है।इनका स्वभाव बहुत ही मददगार होता है। जिस कारण ये मनुष्य का सबसे अच्छा मित्र होते है।कुत्ता को मनुष्य द्वारा सबसे पहले पालतु बनाया जाने वाला जानवर माना जाता है।कुत्ता स्वामी भक्ति के लिए जाना जाता है। ये सबसे अलग और सब मे खास होते है। पालतू जानवर तो बहुत से है पर इनके जैसा कोई नहीं। ये मानव सभ्यता के शुरुआत से ही हम मनुष्य के साथ है। 









कुत्ता पर छोटे निबंध 

कुत्ता जो की एक पालतू जानवर है।यह Canidae Family का जानवर होता है ,इसी Canidae Family से fox और wolf  भी होते है।Canidae Family  की पहचान लंबे थूथन, बड़े कैनाइन दांत, लंबी पूंछ से होती है।


हरेक कुत्ते के दांत तेज और नुकीले होते हैं, जिसके कारण वे आसानी से चीजों को चीर-फाड़ सकता है।इसके चार पैर, दो कान, दो आंखें, एक पूंछ, एक मुंह और एक नाक होती है।यह बहुत ही चालाक जानवर होता है।चोरों को पकड़ने में भी बहुत उपयोगी होता है। यह बहुत तेज दौड़ता है, जोर से भौंकता है और अजनबियों पर हमला करता है। कुत्ताअपने मास्टर के जीवन को खतरे से भी बचाता है।कुत्ते की लम्बाई औसतन 6 से 33 इंच तक होती है। इसके साथ ही उनका वजन लगभग 3 से 175 पाउंड तक होता है।


जीवन-काल

कुत्ते का जीवनकाल बहुत ही छोटा होता है।यह लगभग 12-15 साल तक ही जीवित रह सकता है।कुत्ते के आकार पर निर्भर करता है जैसे कि छोटे कुत्ते लंबा जीवन जीते हैं। एक मादा कुत्ता जो की बच्चे को जन्म देती है और उसे दूध भी पिलाती है। इसलिए कुत्ते को स्तनपायी श्रेणी में रखा जाता है।  कुत्ते के बच्चे को पिल्ला कहा जाता है।कुत्ते के घर को केनेल कहा जाता है।


वर्गीकरण

इनको इनके काम के अनुसार वर्गीकृत किया जाता है जैसे गार्ड डॉग, हेरिंग डॉग, हंटिंग डॉग, पुलिस डॉग, गाइड डॉग, स्निफर डॉग, इत्यादि। इसमें सुंघने की अद्भुत शक्ति होती है, जिसकी सहायता से पुलिस हत्यारों, चोरों और डाकुओं को आसानी से पकड़ लेती है। पुलिस और मिलिट्री, कुत्तों को ट्रैक करने और बम का पता लगाने के लिए भी प्रशिक्षित करती हैं।


कुत्तों की जरूरत

प्रशिक्षित कुत्तों को हवाई अड्डों, पुलिस स्टेशनों, सीमाओं और स्कूलों में नियुक्त किया जाता  है।ट्रैकिंग और शिकार के लिए कुत्तों की सबसे ज्यादा जरुरत पड़ती हैं। इन कुत्तों को उनके मानव साथियों के लिए सुनने, देखने और शिकार ढूंढ कर लाने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है।इनमे तेज़ सुघने की अद्भुत क्षमता होती है। इनके दिमाग भी काफी तेज़ और एक्टिव होते है। ये दूसरे व्यक्ति के चाल चलन और उसके हाव भाव देख के समझ जाते है की ये उनके मालिक के दोस्त है या दुश्मन।इनकी यही सब खूबियां दूसरे पालतू जानवर  से अलग और इंसानो में लोकप्रिय बनती है। ये सर्वाहारी होते है। 


कुछ रोचक जानकारी 

  • इस पूरी दुनिया में  सैकड़ो नस्ल के कुत्ते पाए जाते है। जिनकी कुल संख्या 380 मिलियन के आसपास है। 
  • कुत्तो जो की Canidae Family से आते है। Canidae Family से भेड़िये और लोमड़ी भी आते है।  
  • कुत्तो का डीएनए 99 % तक भेडियो के डीएनए से मिलता है। 
  • कुत्तो की औसत आयु 14 साल की होती है। 
  • छोटे कुत्ते की जीवन कल बड़े कुत्ते से ज़्यदा होती है। 
  • कुत्ते की अँधेरे में देखने की क्षमता अधिक होती है। 
  • कुत्ते के बच्चे के मुँह में 28 दाँत और बड़े कुत्ते के मुँह में 42 दाँत होते है। 
  • कुत्ते की 3 पलके होती है। जो उनकी आँखों को सुरक्षा प्रदान करते है। 
  • पालतू कुत्ते की जीवन कल थोड़ा ज़्यदा होता है साधारण कुत्ते की तुलना में। 
  • कुत्तो को पानी में अच्छे से तैरने आता है। 
  • कुत्तो में मानव से सुघने की क्षमता १०,००० गुना ज़्यदा होती है। 
  • कुत्ते इंसानो की तरह सपने देखते है। 
  • कुत्तो भी राइट और लेफ्ट हैंडेड होते है। 
  • कुत्तो को पैरों के पंजों के अलावा किसी भी अंग पर पसीना नहीं आता है। 
  • हाफ्ते समय इनकी सुघने की क्षमता ४०% तक कम हो जाती है। 


इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको About dog in Hindi/कुत्ता पर छोटे निबंध /dog in hindi और उससे जुडी जानकारी प्राप्त करवाया है और उम्मीद करता हु की ये पोस्ट पसंद आएगा। और भी कुछ अगर जानना हो तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट कर पूछ सकते है और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो कृपया करके FACEBOOK  में  फॉलो और शेयर करे।



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां