Ticker

6/recent/ticker-posts

10 फायदे काजू खाने के । Benefits of Cashew (Kaju) in Hindi

आज के पोस्ट का विषय एक ड्राई फ्रूट जिसका इस्तेमाल सबसे ज़्यदा होता है। ड्राई फ्रूट में सबसे ज़्यदा काजू का इस्तेमाल होता है।सभी के घर में ड्राई फ्रूट का अक्सर इस्तेमाल होता हैं।किसी पकवान को लज़ीज़ बनाने  में, तो कभी स्नैक्स के तौर पर खाने के लिए। ड्राइ फ्रूट में सबसे ज्यादा लोग काजू को ही पसंद करते हैं। Cashew (Kaju) Khane Ke Fayde कितने हैं, क्या ये बात आप जानते हैं?आशा  है की आपने काजू खाने के फायदे बारे में सिर्फ सुना होगा लेकिन काजू के फायदे (Kaju Ke Fayde) क्या है, यह नहीं जानते होंगे। आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको काजू से जुड़े फायदे नुकसान इस्तेमाल इसके दाम और काजू के प्रकार यह तरह की तमाम बाते बताएंगे।इस पोस्ट को पूरा पढ़े और काजू  के बारे में लाभप्रद जानकारी ले।चलिए जानते हैं काजू से जुड़े फायदे नुकसान के बारे में।







काजू खाने के फायदे 

  • भारत में काजू को १६ वी शताब्दी में लाया गया था।जो की पुर्तगाल ,ब्राजील देश से भारत लाया गया था।  काजू के अंदर सबसे अधिक मात्रा में विटामिन ई पाया जाता है। काजू में पाए जाने वाले तत्व कैंसर जैसे गंभीर बीमारियों से भी बचाते है। 

  • काजू के अंदर पाए जाने वाले तत्व हमारे शरीर के अनेक भागो के लिए लाभप्रद होते है। हमारे शरीर के जरुरी भाग में दाँत भी होता है। दाँतो को मजबूत बनाये रखने के लिए कैल्सियम की जरूरत होती है जो की काजू में भरपूर मात्रा में पाया जाता है। अगर आप भी दाँत से जुडी समस्या से परेशान है तो काजू का सेवन जरूर करे। डायबिटीज एक ऐसी  बीमारी होती है जिसके कारण शरीर में अन्य ढेंरों बीमारियां होने लगती है। काजू में ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो खून में ग्लूकोज को नियंत्रित रखते हैं। काजू का सेवन करने की वजह से ही यह आपको डायबिटीज से भी बचा के रखता है। 

  • काजू का इस्तेमाल गर्भवती महिलाओं के लिए जरुरी होता है।इसका इस्तेमाल शिशु को भी सेहतमंद रखता है। काजू का इस्तेमाल से  शिशु की हड्डियां के विकास होता है। इसमें मौजूद कैल्शिय और मैग्नीशियम हड्डियों के विकास के साथ ही शिशु के जन्म के समय वजन को भी कम नहीं होने देता।

  • आजकल लोग  हृदय से जुडी बीमारियों के कारण  अनेक तरह के दवाओं का इस्तेमाल करते है। काजू के इस्तेमाल करना अच्छा होगा क्योकि काजू को नट्स की क्षेणी में रखा गया है। नट्स जो की  दिल को तंदुरुस्त रखते है। इसमें पाए जाने वाले बायोएक्टिव और माइक्रो नियूटीएस जो की दिल को स्वस्थ रखते है।



  • आजकल लोग पेट से जुडी बीमारिया जिससे उनके पाचन क्षमता पर प्रभाव पड़ता है से परेशान होते है। अक्स्सर आप भी देखे होंगे  खाना नहीं पचता है। काजू के  इस्तेमाल करने से पाचन तंत्र भी मजबूत  होता है। क्योकि काजू में हाई फाइबर पाए जाते है जो की पाचन तंत्र को मजबूती देता है। इसके इस्तेमाल से पेट में होने वाले अल्सर से भी बचाव करता है। 


  • आजकल लोग  हड्डी से जुडी समस्याओं से भी बहुत अधिक परेशान होते है। कमजोर हड्डी का होना भी अपने आप  जटिल परेशानी है। काजू  इस्तेमाल करने से हड्डियों को मजबूती है।क्योकि काजू में पाए जाने वाले कैल्सियम हमारे हड्डियों को मजबूत बनता है। 



  • आजकल लोग डिप्रेसन से परेशान होते है। मैग्रेसियम जो की काजू में पाया जाता है वो हमारे ब्रेन में होने वाले रक्त प्रवाह को सुचारु ढंग से जारी रखता है। जिससे स्ट्रेस और डिप्रेसन जैसी जटिल बीमारियों से राहत मिलती है। 


  • काजू में पाए जाने वाले विटामिन ई जो हमारे स्किन के लिए लाभप्रद होते है। अगर आपके चेहरे पर बढ़ती उम्र का असर ना दिखे  चेहरे पर झुरिया ना  दिखे इसके लिए काजू का रोजना इस्तेमाल करना विशेष रूप से लाभप्रद होता है। 


  • काजू के अंदर पाए जाने वाले तत्व  मैग्नीशियम, जिंक, आयरन और फॉस्फोरस जैसे पोषक तत्व होते है जो की यह सभी तत्व बालों के लिए बेहद फायदेमंदर होते हैं।बाल का गिरना सभी लोगो को परेशान करता है ,लोग इसके बचाव के लिए अनेक कीमती प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते है पर कोई लाभ नहीं होता है। वैसे में काजू का इस्तेमाल बेहत फायदेमंद होगा। काजू में फाइबर की मात्रा काफी अधिक होती है जो गॉल ब्लैडर में होने वाली पथरी की समस्या को उत्पन होने से पहले ही छुटकारा दिलाता है।  गॉल ब्लैडर की पथरी होने कारण वजन तेजी से घटता है, जो की शरीर के लिए बेहद जोखिम भरा हो सकता है। 


  • काजू के अंदर पाए जाने वाले तत्व में एंटीऑक्सीडेंट के गुण होते है जो हमरे शरीर को स्वस्थ रखते है। एंटीऑक्सीडेंट के गुण  हमारे शरीर को कैंसर और दिल से जुडी बीमारियों से बचाते है। काजू में प्रचुर मात्रा में आयरन पाया जाता है जो  खून को साफ करने का काम करता  है। जिसके कारण शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह बना रहता है।







काजू का इस्तेमाल ऐसे करें

  • अगर आप काजू का सेवन करना चाहते हैं तो आप काजू को रोजाना खा सकते हैं।काजू कतली का भी सेवन कर सकते हैं।
  • आप चाहें तो काजू और बादाम को अच्छी तरह भून कर खा सकते हैं। इसे आप पहले भून कर रख लें इसके बाद जब भी इसका सेवन करना हो उसमें थोड़ा नमक मिला लें फिर इसके लज़ीज़ स्वाद का आनंद ले। 
  • काजू का इस्तेमाल आप खीर या हल्वे  में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपको काजू खाने के फायदे भी मिलेंगे और पकवान दिखने में भी बेहतर और लज़ीज़ लगेगा। 
  • काजू का इस्तेमाल आप अन्य पकवान बनान में, जैसे पुलाओं बनाने में, शाही पनीर बनाने में  और भी अनेक लज़ीज़ पकवान बनाने में होता है। 

काजू कितना खाएं / नुकसान 

आप रोजाना नियमित रूप से ५ या ६ काजू खाये आपके सेहत के लिए लाभदायक होगा। ज़्यदा और अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए।अधिक मात्रा में सेवन करना काजू के कई तरह के बीमारी भी उत्पन  कर सकता है जैसे की मोटापा ,दिल से जुडी बीमारिया ,शरीर में सूजन का होना आदि अनेक ,इस लिए इसका इस्तेमाल की एक लिमिट है जिससे ज़्यदा नहीं  करे। 

 

पूछे जाने वाले सवाल


काजू को अंग्रेजी भाषा में क्या कहते है ?

अंग्रेजी भाषा में काजू को Cashew कहा जाता है।

भारत में पहली बार काजू कब लाए गए थे?

भारत में काजू पहली बार 16 वी सदी में ब्राजील और पुर्तगाल से लाए गए थे।

क्या काजू के नुकसान भी होते हैं?

जी हां काजू खाने के नुकसान भी बहुत अधिक होते हैं। इसका नुकसान तभी होता है, जब आप जरूरत से अधिक मात्रा  'काजू का अधिक मात्रा' में सेवन करते है। 


निष्कर्ष

आशा करते हैं हमारे इस पोस्ट  के माध्यम से आप यह तो समझ गए होंगे कि काजू खाने के फायदे क्या हैं ?किस तरह आप काजू का सेवन कर सकते हैं ,अधिक सेवन करना नुकसान दायक भी होगा। उम्मीद है आपने पूरा लेक को पढ़ा होगा। 


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां