Ticker

6/recent/ticker-posts

Cumin Seeds in Hindi । Jeera Ke Fayde

इस पोस्ट के विषय  Information About Cumin Seeds in Hindi, यानी जीरा के बारे में जानकारी।जीरे का उपयोग तो हम सभी के घरों में होता है। लेकिन उपयोग होने बाद भी बहुत ही कम लोग होंगे जो जीरा खाने के फायदे Jeera Ke Fayde के बारे में जानकारी होगा । बहुत समय पहले से भारतीय रसोई में जीरे का उपयोग किया जाता है ।ऐसी कोई भी सब्जी नहीं है जिसमें जीरे का उपयोग नहीं किया जाता है।जीरा के लाभ ना केवल स्वाद में होता है  बल्कि कई बीमारियों को दूर करने के साथ ही वजन कम करने तक में भी देखे जाते हैं।आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको जीरे से जुड़ी बहुत सी दिलचस्प बातें बताएंगे।आपको भी Cumin Seeds Hindi से जुड़ी संपूर्ण जानकारी हासिल करना चाहते हैं, तो हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें। 




जीरा जो की एक मसाला होने के साथ ही जड़ी बूटी भी होता है। जीरा जिसका उपयोग ना केवल भारत बल्कि पश्चिमी देशों में भी किया जाता है।जीरा जो कीअजमोद और गाजर के परिवार से आता है।जीरा जिसका  उपयोग बहुत सी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। 


जीरा के प्रकार 

जीरा मुख्य रूप से तीन तरह के होते है। जो की सफ़ेद ,काला & जंगली जीरे के नाम से जाने जाते है। 

सफ़ेद जीरा  (White Cumin Seeds) 

इसका उपयोग भारत में लगभग नहीं होता है। लेकिन इस जीरे में  विटामिन ए और विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में पाई जाती है। 


काला जीरा (Black Cumin Seeds) 


काला जीरे का स्वाद थोड़ा कड़वा होता है।इसकी तासीर गर्म होती है, जिसकी वजह से इसका उपयोग मुख्यरूप से  सर्दियों के मौसम में अधिक किया जाता है।इस जीरा का इस्तेमाल कोलेस्ट्रॉल से लेकर पेट से जुड़ी समस्याओं में आराम दिलाने के लिए किया जाता है।

जंगली जीरा (Jungli 
Cumin Seeds

जंगली जीरे का उपयोग मुख्य रूप से  खांसी, जुकाम और नाक से खून निकलने की समस्या में किया जाता है।किसी व्यक्ति को सिर में लीक या जूं की समस्या हो तो वह जंगली जीरे का उपयोग कर सकता है। 


जीरा खाने के कुछ लाभ 






  1. बहुत से लोगो के  मुंह से बदबू आती है तो आप जीरे के पाउडर का सेवन दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं। इससे आपकी यह समस्या समाप्त हो जाएगी।
  2. खट्टी डकार से परेशान लोग जीरा को पानी के अंदर जीरा डालकर पीना चाहिए। इससे उन्हे जल्दी ही खट्टी डकार से राहत मिल सकती है।
  3. खुजली की समस्या में भी जीरे का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आपको कुछ जीरे में सिंदूर मिलाना है और इसे तेल में पका कर लगाना है।ऐसा करने से आपको खुजली से तुरंत राहत मिल जाएगी।
  4. बहुत से लोगो को हिचकी आती रहती है तो उस समय आप पानी में जीरा पाउडर डालकर पी सकते हैं। इससे आपको हिचकी आनी बंद हो जाएगी।
  5. भूख नहीं लगने पर जीरा को निम्बू और नमक के साथ इस्तेमाल करे ,इससे जल्दी ही भूख लगने लगेगी।
  6. बहुत से लोगो को पेट में कीड़े होने लगते है उन्हें जीरे का पाउडर और कैस्टर ऑयल का सेवन मिलाकर करना चाहिए।पेट में कीड़े मरने लगते हैं।
  7. अक्सर गर्मियों के मौसम में नाक से खून आने की समस्या होती है जिससे बहुत लोग प्रभावित होते है।इसमें आप उपाय के रूप में आप जीरे के पौधे की पत्तियों का रस सीधे नाक में डाल सकते हैं।
  8. बवासीर की समस्या को खत्म करने में भी जीरा खाने के लाभ देखे गए हैं। 
  9. किसी व्यक्ति के शरीर के निचले हिस्से में लकवा मार दिया हो तो उसे जीरा को पीसकर लगाना चाहिए। इससे जरूर लाभ मिलता सकता है।
  10. किसी व्यक्ति को अगर मकड़ी ने काट लिया हो तो वह जीरे को सोंठ के साथ पीस कर प्रभावित जगह पर लगा सकता है।जिससे उसे तुरंत आराम मिलता है।

जीरा खाने के फायदे 






एनीमिया में जीरा का उपयोग 

एनीमिया एक ऐसी समस्या होती  है जिसके पीड़ित व्यक्ति के शरीर में रेड ब्लड सेल्स का निर्माण बहुत ही कम होता है। एनीमिया की शिकायत होती है जब शरीर में आयरन की कमी हो जाती है जिन लोगों को एनीमिया की समस्या होती है, उन्हे हमेशा कमजोरी और थकावट महसूस होती है। इस समस्या का अंत जीरा कर सकता है। जीरा जिसके अंदर प्रचुर मात्रा में आयरन होता है। ऐसे में आप इसका सेवन दही में डालकर या पानी में इसका पाउडर डालकर कर सकते हैं। 

पेट से जुड़ी समस्या में 

आजकल अक्सर बहुत से लोगो को पेट से जुड़ी किसी न किसी प्रकार की समस्या रहती है जैसे दस्त, पेट दर्द, पेट फूलना आदि।इस समस्या में भी जीरा आपके लिए किसी रामबाण इलाज से कम नहीं है। जीरा के अंदर ऐसे एंजाइम पाए जाते हैं जो आपकी अपच और पेट से जुड़ी समस्याओं का समाधान कर सकते है। 

हड्डियों से जुड़ी समस्या 


बढ़ती उम्र के साथ ही ख़राब खान पान की वजह से अक्सर हड्डियों से जुड़ी समस्या होने लगती है।अगर आपको भी ऑस्टियोपोरोसिस से बचे रहना है तो आपको रोजाना जीरे का सेवन करना होगा।जीरे के अंदर कैल्शियम, पोटेशियम एवं मैग्नीशियम जैसे तत्व होते हैं जो हड्डियों के लिए फायदेमंद  माने जाते हैं।इसके साथ ही जीरा में विटामिन बी12 भी होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने का कार्य करता है। 


नींद ना आने की समस्या

बहुत से लोग आजकल नींद ना आने की समस्या से परेशान होते है। अगर आप भी नींद ना आने से परेशान है तो आपके लिए जीरा किसी रामबाण इलाज से कम नहीं  है।जीरा के अंदर मेलाटोनिन होता है जो नींद से जुड़ी कई समस्याओं का अंत करने के लिए जाना जाता है।नींद की समस्या को समाप्त करने के लिए जीरे की चाय पी सकते हैं, अगर चाय नहीं पीते तो फिर जीरे के पाउडर को केले या किसी अन्य फल पर लगा कर खा सकते हैं। 


रोग प्रतिरोधक क्षमता को सुधारने 

बहुत से लोग हमेशा बीमार पड़ते रहते हैं और जब बीमार हो जाते तो  बीमारी से जल्दी ठीक भी नहीं हो पाते। इस तरह की समस्या में आप जीरे का उपयोग कर सकते हैं।जीरे में विटामिन सी पाई जाती है, जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को सुधारने में मदद करता है। 


बढ़ते वजन की समस्या 

बहुत से लोग आज  के समय में बढ़ते वजन की समस्या से परेशान हैं।वजन बढ़ने की समस्या को काबू में करने के लिए आपको जीरे का सेवन जरूर करना चाहिए।एक रिसर्च से यह मालूम हुआ है कि जीरे के अंदर ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो आपके शरीर से चर्बी या मोटापा घटाने का कार्य करते हैं। इसके अलावा जीरे के सेवन से आपका मेटाबॉलिज्म भी बेहतर होता है। आप जीरे को भूनकर दही में मिलाकर खाएं।बढ़ते वजन से लाभ जरूर मिलेगा। 

गैस की समस्या

आज के समय में बहुत से लोग गैस की समस्या से बेहद परेशान है।इसका मुख्य  कारण होता है खराब जीवनशैली और बेकार खान पान।इस समस्या से बचे रहना है तो इसके लिए आप जीरे का सेवन नियमित रूप से कर सकते हैं।जीरा का इस्तेमाल आपके गैस की समस्या के साथ ही  पेट फूलना और पेट दर्द से भी राहत दिलाएगा। 

मधुमेह की बीमारी

मधुमेह एक ऐसा बीमारी है जिससे भारत में ही लाखों लोग पीड़ित हैं। ऐसे में अगर आपको इस समस्या को नियंत्रित करना है तो आप जीरे का सेवन कर सकते हैं। एक रिसर्च से पता चला है कि जीरे के अंदर मधुमेह को काबू करने की गुण पाए जाते हैं। 


 जीरे का उपयोग कैसे करे 


  1. सब्जी बनाने में आप जीरे का छौंक लगा सकते हैं। 
  2. दही या छाछ के अंदर भी जीरे का भूनकर सेवन कर सकते हैं।
  3. बहुत सी जगह जीरे का उपयोग राइस में किया जाता है। आप भी जीरा राइस का सेवन कर सकते हैं।
  4.  चाय की तरह आप चाहें तो जीरा की चाय भी बना सकते हैं। जीरा चाय आपको बहुत सी समस्याओं से निजात दिला सकती है।
  5. आप चाहें तो जीरे के पाउडर को पानी में डालकर पी सकते हैं। इससे आपकी सेहत पर एक सकारात्मक असर पड़ेगा।
  6.  जीरे का सेवन कई तरह की डिश बनाने में भी कर सकते हैं।


जीरे के उपयोग से होने वाले नुकसान 





  1. बहुत से लोगों को जीरे से बनी चीजों से एलर्जी होने लगती है। अगर आपके साथ भी ऐसा है तो आप जीरे का सेवन बिल्कुल ना करें।
  2. डायबिटीज के मरीज को बिना डॉक्टर की सलाह के जीरे का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए। सब्जी या दाल और रायते के साथ इसका सेवन कर सकते हैं। 
  3. जीरे के बहुत अधिक सेवन से रक्तस्राव खतरा पैदा हो सकता है। 
  4. जीरे के तासीर गर्म होती है जिसकी कारण से इसका अधिक सेवन आपके शरीर में कई समस्या पैदा कर सकता है। 

 


अक्सर पूछे जाने वाले सवाल 

  1. जीरे की तासीर कैसी होती है?

    जीरा की तासीर गर्म होती है, लेकिन इसका उपयोग सभी मौसमों में किया जा सकता है।

  2. जीरा कुल कितने प्रकार का होता है?

    जी जीरा मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं, काला, सफेद और जंगली।

  3. क्या मधुमेह के रोगियों को जीरे का सेवन करना चाहिए?

    आपको इस बारे में डॉक्टर से ही सलाह लेनी चाहिए।

  4. क्या जीरा पानी पीने से कोई विशेष लाभ होता है?

    जी हां, इसके बहुत से लाभ होते हैं, यह आपकी पाचन क्रिया से लेकर पेट दर्द तक में राहत देता है।

निष्कर्ष 

इस पोस्ट में Information About Cumin Seeds in Hindi  तथा आपको जीरा खाने के फायदे नुकसान और उपयोग बता दिए हैं।आशा करते है पोस्ट को आपने पूरा पढ़ा होगा। 


इसे भी पढ़े 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां