बैटरी क्या होती है । What is Battery in Hindi

आज के अपने इस पोस्ट में Hindi Battery / What is battery in Hindi के विषय में पूरी जानकरी देंगे , आज के समय में इलेक्ट्रिसिटी के डिसकनेक्ट होते ही सबसे पहले लोग यही बोलते है की इन्वेर्टर को आन करो , आप सभी को मालूम है की इन्वेर्टर के साथ बैटरी का इस्तेमाल होता है । बैटरी में ही एनर्जी को स्टोर किया जाता है । आज हम उसी बैटरी के विषय में जानेगे ।

आज के समय में बैटरी की भूमिका दिनचर्या के सभी कार्यो में रहती है । जिसे कार , बाइक , इलेक्ट्रिसिटी के नहीं रहने पर ,अनेक जगह इसके मदद से जिंदगी आसान होती है । सभी तरह के ट्रांसपोर्ट के लिए इस्तेमाल होने वाले साधन में सेल्फ को घुमाने के लिए भी बैटरी का ही इस्तेमाल होता है । इसके साथ ही हॉर्न और लाइट के लिए भी बैटरी का ही इस्तेमाल होता है ।

बैटरी का उपयोग बहुत जगह किया जाता है , दिनचर्या से कार्य में इस्तेमाल होने वाले साधन से लेकर बड़े बड़े गाड़िया तक इसका इस्तेमाल किया जा रहा है ।

 Battery In Hindi
Battery In Hindi

What Is Battery In Hindi – Hindi Battery

बैटरी एक ऐसा उपकरण होता है जो 2 या 2 से अधिक रसायनिक सेल को सीरीज में जोड़ा जाये , इसको ही बैटरी कहते है । बैटरी रसायनिक ऊर्जा को विधुत ऊर्जा में बदल देता है । अच्छा अब आप ये सोच रहे होंगे की सेल ही बैटरी होता है , नहीं एक सेल से प्राप्त विधुत धारा बहुत ही कम होती है जबकि एक बैटरी से प्राप्त विधुत धारा उच्च होती है ।

How to make battery – Battery ka Hindi

 Battery In Hindi
Battery In Hindi

सभी तरह के बैटरी जो की छोटे छोटे सेल से जोड़ कर ही बनाई जाती है , हर एक सेल 2volt के होते है । जितना बोल्ट की बैटरी की आवश्यकता हो , उसमे उतना सेल जोड़ते जायेगे । जैसे की अगर हमें 12volt की बैटरी चाहिए तो उसमे 6 सेल जोड़ना होगा ।

हर तरह के सेल में 2 टर्मिनल होते है ।

1-पॉजिटिव टर्मिनल(Positive Terminal)
2-नेगेटिव टर्मिनल (Negative Terminal)

किसी भी सेल के पॉजिटिव टर्मिनल को एनोड  & नेगेटिव टर्मिनल को कैथोड भी कहा जाता है। एक बैटरी को बनाने के लिए एक सेल के (+ve) जो की दूसरे सेल के (-ve) के साथ जोड़ना होता है हमे जितना बोल्ट की बैटरी चाहिए उसके हिसाब से हम सेल को (+ve) (-ve) वे जोड़ते जायेगे । लास्ट में सबसे पहले वाले सेल का (+ve) तथा सबसे आखिर वाले सेल के (-ve) को बहार निकल देते है जो की टर्मिनल के रूप में उपयोग होगा ।

 Types of battery – Battery Hindi Meaning

Battery ka Hindi
Battery In Hindi

बैटरी 2 प्रकार के होते है , जैसे की सेल भी 2 प्रकार के होते है । ठीक उसी तरह बैटरी भी दो प्रकार के होते है ।

Primary Cell/Battery (प्राइमरी बैटरी)

Secondary Cell/Battery (सेकेंडरी बैटरी)

Primary Battery (प्राइमरी बैटरी) – Battery In Hindi

जिस जगह पर कम पावर की जरूरत होती है उस जगह पर Primary Battery (प्राइमरी बैटरी) का इस्तेमाल किया जाता है । जैसे की टीवी का रिमोट , घड़ी ,ACके रिमोट में भी , इनका इस्तेमाल बहुत सरे जगह होता है , इस तरह के बैटरी को सेल भी कहा जाता है । इनका आकर इनके इस्तेमाल होने वाले जगह के अनुसार होता है ।

प्राइमरी बैटरी के प्रकार :-
1-Alkaline & Carbon Battery
2-Lithium battery
3-Mercury battery
4-Silver Oxide battery
5-Zinc Air battery

प्राइमरी बैटरी के फायदे 

प्राइमरी बैटरी के फायदे मुख्य रूप इनके कीमत जो की बहुत कम होते है , साथ ही इनके अंदर स्टोर हुआ एनर्जी बहुत दिन तक बिना इस्तेमाल के भी स्टोर रहते है । इस तरह के बैटरी का नुकसान ये होता है की एक बार डिस्चार्ज होने के बाद आप इसको चार्ज नहीं कर सकते है , उस समय इसको फेकना ही पड़ता है ।

सेकेंडरी बैटरी – Battery In Hindi

इस तरह के बैटरी की सबसे अच्छी बात ये होती है की ये चार्जबल होते है । मतलब की आपकी बैटरी पूरी तरह से इस्तेमाल हो गई और वो डिस्चार्ज हो गई उसको आप दुबारा से चार्ज कर सकते है , इस तरह के बैटरी का इस्तेमाल गाड़ियों में होता है , गाड़ियों में इस्तेमाल होने वाली बैटरी अल्टरनेटर के माध्यम से चार्ज होती है । घर में इन्वेर्टर के साथ भी यही बैटरी का इस्तेमाल किया जाता है ।

इसको स्टोरेज बैटरी के नाम से भी बहुत लोग जानते है ।

सेकेंडरी बैटरी के प्रकार
1-Lead Acid Gel
2-Lithium-ion (Li-ion)
3-Nickel-Cadmium (Ni-Cd)
4-Nickel Metal Hydride

सेकण्डरी बैटरी के फायदे 

इस तरह के बैटरी की लाइफ अधिक दिन के इस्तेमाल के लिए होती है , इसको डिचारगे होने पर पुनः चार्ज किया जा सकता । इनको चार्ज करने के लिए डायरेक्ट करंट की आवश्यकता होती है । प्राइमरी बैटरी के तुलना में इनकी कीमत बहुत अधिक होता है , जो की इसका मुख्य रूप से दोष है ।

आज के इस पोस्ट में मैंने आपको How to make battery ,What Is Battery In हिंदी / hindi battery के बारे मई बतया , आशा करते है आपने ये पोस्ट को पूरा पढ़ा होगा , पोस्ट पसंद आने पर शेयर जरूर करे ।

Read More on gyantech

What Is Ac Current And Dc Current(2021)What Is Ac Current And Dc Current(2021)
Mcb kya haiWhat is MCB in Hindi
Capacitor meaning in hindiCapacitor का क्या काम
What is Sensor in Hindiसेंसर क्या है और सेंसर के प्रकार
Automated teller machine(ATM) in Hindi Automated teller machine(ATM) in Hindi 

Leave a Comment