What is AC current and DC current in Hindi

आज के अपने इस पोस्ट में What Is Ac Current And Dc Current- के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देंगे । बिजली जिसको इंग्लिश में इलेक्ट्रिसिटी भी कहा जाता है ,आज के समय में किसी भी मनुष्य का जीवन बिना इसके अधूरा है । सबको इसकी जरूरत होती है ।

बिजली जो की हमरे घर में इस्तेमाल होने वाले उपकरण से लेकर बड़े बड़े कल कारखानों में इस्तेमाल होने वाले मशीनों को चलाती है ।आज के समय में मानव के दिनचर्या के अनेक चीज़ो को बिजली के माद्यम से ही इस्तेमाल किया जाता है , जैसे रौशनी के बल्ब , हवा देने के लिए फैन , ऐसे ही अनेक उपकरण जो मनुष्य के जीवन को आरामदायक बनाते है ।

How Many Type of Current

Current- जो की 2 प्रकार के होते है । करंट जो की २ तरह की होती है। जैसा की हम सभी जानते है की AC करंट और दूसरा DC करंट होता है।

  • AC Current
  • DC Current

Ac Current को हिंदी में प्रत्यावर्ती धारा तथा DC Current को द्रिष्ट धारा भी कहते है ।

AC & DC Full Form in Hindi

1AC current full formAlternating Current
2DC Current FULL FORMDirect Current
AC current full form/DC Current FULL FORM

What is Ac current and Dc Current Defination in Hindi

What is AC current and DC current in Hindi
What is AC current and DC current in Hindi

Ac current Defination in Hindi- यह एक लगातार प्रवाहित होने वाली धारा होती है । जिसको इंग्लिश में अल्टेरनेटिंग current कहते है , और हिंदी में प्रत्यावर्ती धारा कहा जाता है ।

Dc Current Defination in Hindi – यह एक सीधे प्रवाह होने वाली धारा होती है। यह एक ऐसी धारा होती है जो की हमेशा एक ही तरफ बहने वाली धारा होती है।

What is the difference between ac and dc Power

what is difference between ac and dc current- अब अपने इस पोस्ट में दोनों करंट के बीच के अंतर् को एक एक कर समझेंगे । जिससे आपको समझने में मदद मिलेगी ।

What is alternating Current

इस तरह के धारा को जिसे अल्टेरनेटिंग करंट कहा जाता है , इसमें करंट निश्चित समय में अपना दिशा और वैल्यू को बदलता रहता है । लगातार होने वाले बदलाव के कारण ही इसको अल्टेरनेटिंग करंट कहा जाता है । इस तरह के करंट को एक जगह से दूसरे जगह भेज सकते है , इसमें अधिकतम 33000 kv- तक बिजली को उत्पादन किया जा सकता है । इसके वोल्टेज को जरूरत के अनुसार कम या जयदा किया जाता है , इस काम के लिए ट्रांसफार्मर का इस्तेमाल किया जाता है ।

इस तरह के करंट का उत्पादन में लगने वाले ख़र्च अधिक नहीं होता , साथ ही इसको एक जगह से दूसरे जगह पर भेजा जा सकता है , अपने जरूरत के अनुसार वोल्टेज को कम या अधिक किया जा सकता है । इस तरह के करंट से घर के अनेक उपकरण चलते है जैसे Ac , Fan , Bulb , Mixer , Motor आदि अनेक चीज़े में इस तरह के करंट का ही इस्तेमाल किया जाता है ।

What is Dc Electricity Current

इस तरह के करंट को Direct current कहते है । इस प्रकार के करंट की न तो दिशा बदलती न ही उसका वैल्यू बदलता , इस कारण ही इसको डायरेक्ट करंट कहा जाता है । इस तरह के करंट का उत्पादन अधिकतम 650 volt- तक ही किया जाता है । इसके उत्पादन का कॉस्ट भी अधिक पड़ता है । किसी भी तरह के बेटरी को चार्ज करने के लिए डायरेक्ट करंट का ही इस्तेमाल होता है , साथ ही इसका इस्तेमाल ,computer , मोबाइल फ़ोन , मल्टीमीटर , वेल्डिंग मशीन में भी किया जाता है । इस तरह के करंट को स्टोर किया जा सकता है , जिसके लिए बेटरी की जरूरत होती है ।

आखरी कुछ शब्द इस पोस्ट के बारे में

आज के अपने इस पोस्ट में मैंने आपको what is ac current and dc current के विषय में जानकारी दिया , साथ ही इसके फुल फॉर्म एंड डेफिनेशन को भी बताया , मेरा ये पोस्ट आपकी जानकारी को बढ़ाने में जरूर मदद करेगा , पोस्ट पसंद आने पर शेयर जरूर करे ।

इस पोस्ट में यदि किसी भी तरह की कोई त्रुटि रह गई हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर सूचित करें ताकि हम अपनी इस पोस्ट को सुधार कर सकें जिससे की सटीक जानकारी आपको मिल सके

इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद!!!!!

Tap To Follow Us on Google News

Read More on Gyantech